क्या बारा का छोकरा अतुल राय बन पाएगा ज़मानियां का विजेता?

शम्स तबरेज़, सियासत न्यूज़ ब्यूरो
बारा(ग़ाज़ीपुर): बारा गांव का मुसलमान सबसे ज़्यादा विकास के मामलें को लेकर इस बार गुस्से में है। विकास के तमाम दावे सड़क के आगे पानी भरते नज़र आ रहे हैं। यहां पर समाजवादियों की कोई कमी नहीं, लेकिन इस बार लगता है कि बीरपुर के अतुल राय को बारा गांव ने गोद लिया है। गंगा किनारे वाला बारा का ये छोरा बारा गांव वालों के मन में पैठ बना चुका है। 8 मार्च को इस इलाके में मतदान है, अब देखना होगा कि समाजवाद की साईकल बारा की टूटी सड़कों पर चल पाएगी या नहीं अथवा हाथी की सवारी करके बारा का छोकरा अतुल राय बनेगा ज़मानिया विधानसभा क्षेत्र का विजेता।