भारतीय वायुेसना के पायलट की रिहाई के ऐलान से पहले क्या-क्या बोले पाक पीएम, 10 बातें

भारतीय वायुेसना के पायलट की रिहाई के ऐलान से पहले क्या-क्या बोले पाक पीएम, 10 बातें

भारत की तरफ से पाकिस्तान की हिरासत में पकड़े गए वायुसेना के पायलट को बिना शर्त छोड़ने की मांग के आगे पाकिस्तान को झुकना पड़ा। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने संसद को संयुक्त सत्र को संबोधित करते हुए इस बात का ऐलान किया कि वह कल यानि शुक्रवार को भारतीय वायुसेना का पायलट विंग कमांडर अभिनंदन को रिहा कर देंगे। इमरान ने कहा कि वह शांति के लिए एक दिन पहले पाकिस्तान की तरफ से पकड़े गए भारतीय विंग कमांडर को कल रिहा करने जा रहे हैं।

पाक पीएम ने कहा कि बातचीत खोलने के लिए पहले कदम के तौर पर ऐसा किया जा रहा है।

संयुक्त सत्र को संबोधित करते हुए पाकिस्तानी प्रधानमंत्री ने कहा कि उन्होंने गुरूवार की शाम को भारतीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ बात करने की कोशिश की थी। इमरान ने इस बात को लेकर चेताया कि स्थिति काबू से बाहर नहीं होनी चाहिए नहीं तो पाकिस्तान उसका जवाब देगा।

इमरान ने कहा- “मैं इस बात से डरा हुआ कि कहीं गलत आकलन न हो जाए। गलत आंकलन के चलते कई देश तबाह हो गए। युद्ध समाधान नहीं है। अगर भारत कोई कार्रवाई करता है तो हम उसका जवाब देंगे।”

पाकिस्तान ने रखी थी शर्त

इससे पहले पाकिस्तान ने विंग कमांडर अभिनंदन की रिहाई के लिए भारत के सामने बातचीत की शर्त रखी थी। विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा था, “हम गिरफ्तार भारतीय पायलट को लौटाने के इच्छुक हैं, अगर इससे दोनों देशों के बीच संबंध सामान्य हों और शांति स्थापित हो। यदि भारत आतंकवाद को लेकर बातचीत का इच्छुक है तो हम भी तैयार हैं। आप राजनीति के लिए क्षेत्रीय स्थिरता को संकट में डालना चाहते हैं। यह राजनीति की जरूरत हो सकती हैं लेकिन इतिहास इसके लिए आपको कभी माफ नहीं करेगा।”
इस पर भारत ने कठोर रवैया अपनाते हुए पाकिस्तान को दो टूक शब्दों में चेतावनी दी थी कि वह विंग कमांडर अभिनंदन पर कोई सौदेबाजी करने के बजाय वह उन्हें तुरंत रिहा करे और यदि उन्हें कोई नुकसान पहुंचाया गया तो इसके गंभीर परिणाम होंगे। विंग कमांडर अभिनंदन भारतीय नागरिक और सुरक्षाकमीर् हैं। पाकिस्तान यदि उनकी रिहाई को लेकर कोई सौदेबाजी करना चाहता है तो यह भारत को मंजूर नहीं है। पाकिस्तान की यह हसरत पूरी नहीं होगी। भारतीय पायलट की रिहाई बिना शर्त तुरंत की जानी चाहिए।
भारत ने कहा था विंग कमांडर अभिनंदन के साथ कोई दुर्व्यवहार किया गया तो कार्रवाई की जायेगी।

Top Stories