अफ़ग़ानिस्तान में फिर अमरीकी सेना की बर्बरता 12 बच्चों सहित 20 लोग मारे गए

अफ़ग़ानिस्तान में फिर अमरीकी सेना की बर्बरता 12 बच्चों सहित 20 लोग मारे गए

अफ़ग़ानिस्तान के पूर्वी प्रांत कुनड़ में अमरीकी फ़ाइटर जेट के हवाई हमले में कम से कम 20 लोग मारे गए जिनमें 12 बच्चे और 8 औरते हैं। इस हवाई हमले में 15 से ज़्यादा लोग घायल हुए हैं।

अमरीकी फ़ाइटर जेट का यह हमला शुक्रवार देर रात को हुआ। कुनड़ की प्रांतीय परिषद के सदस्य अब्दुल लतीफ़ फ़ज़ली ने शनिवार को इस घटना की सूचना दी।

दूसरी ओर कुनड़ के राज्यपाल अब्दुस सत्तार ने कहा कि अफ़ग़ान सेना की शेल्तान ज़िले में कार्यवाही में 38 तालेबान और तकफ़ीरी आतंकवादी गुट के कई आतंकी मारे गए, जिनमें 4 विदेशी हैं। अफ़ग़ान सेना की इस कर्यवाही में 12 घायल हुए।

उन्होंने यह भी कहा कि यह कार्यवाही तालेबान के कमान्डर शरीफ़ मोआविया को निशाना बनाने के लिए किया गया कि जिसके बारे में समझा जाता है कि वह अलक़ाएदा की मदद करने वाला व्यक्ति है।

अक्तूबर 2018 में संयुक्त राष्ट्र संघ ने कहा था कि अफ़ग़ानिस्तान में इस वर्ष के शुरु के 9 महीने में जितने लोग हवाई हमलों में मारे गए और घायल हुए हैं, 2009 से अब तक किसी भी एक साल की तुलना में अधिक हैं।

संयुक्त राष्ट्र संघ के आंकड़ों के अनुसार, 2018 में सितंबर तक अमरीकी और अफ़ग़ान सेना के हवाई हमलों में 313 नागरिक मारे गए और 336 घायल हुए जो पिछले साल की इसी अवधि में 39 फ़ीसद वृद्धि को दर्शाता है।

अमरीका ने तालेबान पर बातचीत के लिए दबाव डालने हेतु हवाई हमले तेज़ कर दिए हैं।

 

अमरीका और नेटो के कई सदस्य देशों ने अफ़ग़ानिस्तान पर 2001 में हमला किया जिसके नतीजे में तालेबान शासन का अंत हुआ लेकिन उसके बाद से अमरीका और उसके घटक अफ़ग़ानिस्तान में सुरक्षा क़ायम करने में नाकाम रहे।

इस समय ट्रम्प प्रशासन काबुल सरकार को छोड़कर तालेबान से बात कर रहा है।

Top Stories