इस देश की 16 साल की बच्ची ने पीएम मोदी के लिए भेजा यह संदेश

इस देश की 16 साल की बच्ची ने पीएम मोदी के लिए भेजा यह संदेश

स्वीडन की 16 वर्षीय किशोरी ग्रेटा थुनबर्ग आज पर्यावरण संरक्षण के लिए होने वाले सभी प्रदर्शनों की पोस्टर गर्ल है। स्टॉकहोम में गत वर्ष पर्यावरण संरक्षण के लिए प्रदर्शन कर ग्रेटा ने विश्वभर में मिसाल कायम की। अकेले आरंभ किए गए उसके अभियान में कई देश और संगठन जुड़ गए। ग्रेटा ने पीएम नरेंद्र मोदी के लिए भी पर्यावरण संरक्षण के लिए विशेष संदेश दिया है।

न्यूज़ ट्रैक पर छपी खबर के अनुसार, प्रेस वालों ने जब ग्रेटा से सवाल किया कि वे पीएम मोदी को क्या संदेश देना चाहती हैं, तो उन्होंने कहा कि, ‘इसे बहुत गंभीरता से लें और इस पर कड़े कदम उठाएं। अगर हम अब भी ऐसा नहीं करते हैं तो भविष्य में आपको भी गंभीरता से नहीं लिया जाएगा।

आपके ऊपर काफी बड़ी जिम्मेदारी है और अगर आप इसके लिए कोई काम नहीं करेंगे तो भविष्य में इस गंभीर दिक्कत के लिए लोग आपको ही दोषी ठहराएंगे।’

भारत के स्कूली बच्चों से ग्रेटा बेहद प्रभावित है और वे कहती हैं कि भारतीय बच्चे बहुत बहादुर हैं और वे पर्यावरण संरक्षण के लिए जागरूक हैं। ग्रेटा ने मीडिया से विशेष बातचीत में कई मुद्दों पर चर्चा की।

उन्होंने पर्यावरण संरक्षण पर कहा कि सबसे पहले तो इसे एक बहुत बड़ी समस्या समझने की आवश्यकता है और इसके लिए जागरूकता अभियान चलाने की जरुरत है।

जाहिर है कि उत्सर्जन कम करना पड़ेगा, किन्तु भारत विकासशील देश है। इस लिहाज से देखें तो स्वीडन जैसे देशों को उत्सर्जन पहले कम करने की आवश्यकता है और भारत के अनुपात में विकसित देशों को अधिक प्रभावी तरीके से उत्सर्जन घटाना होगा।

Top Stories