एशियन गेम्स- तजिंदर पाल ने रचा इतिहास, भारत को दिलाया गोल्ड मेडल

एशियन गेम्स- तजिंदर पाल ने रचा इतिहास, भारत को दिलाया गोल्ड मेडल

इंडोनेशिया में चल रहे 18वें एशियन गेम्स के सातवें दिन भारत ने स्कवैश में तीन ब्रॉन्ज मेडल जीते वहीं भारत की ओर से शॉटपुट खिलाड़ी तजिंदर पाल सिंह ने इतिहास रचते हुए भारत को दिन का पहला गोल्ड मेडल जिताया, और भारत का सातवां सोने का पदक भी दिलाया इसके साथ ही भारत का यह 29वां पदक भी भारत की झोली में आ गया। बता दें कि तीसरे राउंड में फाउल करने के बाद भी तजिंदर शीर्ष पर कायम रहे और भारत को एशियन गेम्स में गोल्ड के साथ-साथ एक नया एशियन रिकॉर्ड भी कायम कर लिया।

ऐसे रहा मुकाबलाः इस बेहद रोमांचक मुकाबले में भारत की तरफ से तजिन्दर पाल सिंह ने पहला थ्रो 19. 96 का फेंका जिसके कारण वो शीर्ष पर काबिज हैं साथ ही साथ दूसरे राउंड में उन्होंने 19.15 का दूसरा राउंड समाप्त किया जिसके बाद तीसरे राउंड में उनका शॉट थ्रो फाउल रहा लेकिन वो शीर्ष पर काबिज रहे वहीं चौथे राउंड में पाल ने फिर 19.96 की दूरी का गोला फेंका लेकिन इसके बाद तजिन्दर ने तो कमाल कर दिया और उन्होंने रिकॉर्ड 20.75 मीटर की दूरी का गोला फेंक इतिहास रचते हुए अपनी गोल्ड की दावेदारी पक्की कर ली थी, लेकिन इसके साथ ही उन्होंने इतिहास रचते हुए । तजिंदर पाल सिंह तूर ने 20.75 मीटर तक गोला फेंककर नया एशियन गेम्स रिकॉर्ड भी बना डाला। बता दें कि पिछला रिकॉर्ड 20.57 मीटर का था जो 2010 एशियन गेम्स में सऊदी अरब के सुल्तान अब्दुल मजीद ने बनाया था, लेकिन तजिंदर ने यह रिकॉर्ड तोड़ते हुए इतिहास रच दिया और भारत को दिन का पहला गोल्ड मेडल भी दिला दिय़ा।

Top Stories