एहसान को छुपाना कुफराने नेमत है

एहसान को छुपाना कुफराने नेमत है

हजरत जाबिर रज़ी अल्लाहु तआला अन्हु से रिवायत है के रसूल-ए-पाक सल्लल्लाहो अलैहे वसल्लम ने फ़रमाया, जिसने मुहसिन की तारीफ की उसने एहसान का शुक्रिया अदा कर दिया जिसने मुहसिन के एहसान को छुपाया उसने कुफराने नेमत किया। (तिरमिज़ी)

Share

Top Stories