खुलासा: 30 साल बाद गिरफ्तार हुआ बलात्कार का आरोपी, कंडोम की वजह से पकड़ा गया

खुलासा: 30 साल बाद गिरफ्तार हुआ बलात्कार का आरोपी, कंडोम की वजह से पकड़ा गया

पुलिस ने बच्ची से बलात्कार के आरोपी को जिस तरह से 30 साल बाद पकड़ने में सफलता हासिल की है वह हैरान करने वाला है। आरोपी ने  करीब 30 साल पहले 8 साल की बच्ची की कर रेप कर उसकी हत्या कर दी थी। बच्ची का शव पुलिस को एक गढ्ढे से मिला था।

घटना अमेरिका के इंडियाना की है। पुलिस ने 59 वर्षीय आरोपी जॉन मिलर को बीते रविवार को उसके घर से गिरफ्तार कर लिया है। यह गिरफ्तारी तब हुई तब आरोपी का डीएनए बच्‍ची के कपड़ों से मिले डीएनए से मैच कर गया। पुलिस ने चार्जशीट में बताया कि घटना के बाद बच्ची के घरवालों ने 1988 में बच्ची के गुमसुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। इसके तीन दिन बाद पुलिस को बच्ची का शव मिला था।

पुलिस ने चार्जशीट में बताया कि जब आरोपी मिलर के घर पहुंच कर जांच टीम ने उससे पूछा कि तुम्हें पता है तुमसे पुलिस किस बारे में बातचीत करना चाहती है तो उसने बिना खौफ के पीड़ित बच्ची का नाम लिया। और पुलिस को बताया कि उसने एक अप्रैल 1988 को बच्ची का अपहरण किया और उसका यौन शोषण किया। इसके बाद बच्ची का गला घोंटकर मारडाला। उसने पुलिस को बताया कि बच्ची का शव फेंकने से पहले एक दिन तक उसे अपने घर में रखा था।

कंडोम से ऐसे पकड़ में आया आरोपी-
मामले की जांच करते हुए इंडियाना पुलिस ने 2004 में आरोपी के घर के पास से कुछ यूज्ड कंडोम बरामद किए थे। इन कंडोम से मिना डीएनए का जब बच्ची के कपड़ों से मिले डीएनए से मिलान किया गया तो दोनों के नमूनों में एक जैसा डीएनए मिला। इसके बाद पुलिस ने क्राइम सीन तैयार किया और डीएनए के आधार पर आरोपी मिलर को वारदात के 30 साल बाद धर दबोचा।

सनक में पुलिस को देता था चुनौती-
आरोपी मिलर जगह -जगह कंडोम और हाथ से लिखे कुछ नोट्स छोड़कर पुलिस को गिरफ्तार करने की चुनौती देता था। कुछ नोट्स में पुलिस ने पाया कि आरोपी और लोगों की भी इसी तरह से हत्या करने की धमकी दे रहा है। लेकिन पुलिस को पता नहीं चल पा रहा था कि ऐसा करने वाला कौन हो सकता है।

Top Stories