ग्यारह सितंबर को बम की झूटी इत्तिला देने पर एक औरत गिरफ़्तार

ग्यारह सितंबर को बम की झूटी इत्तिला देने पर एक औरत गिरफ़्तार

न्यूयार्क 14 सितंबर (राईटर) अमरीका के मर्कज़ी तहक़ीक़ाती महिकमा एफ़ बी आई ने गुज़शता 10 सितंबर को फ़ोन के ज़रीया झूटी ख़बर देने के इल्ज़ाम में एक औरत को गिरफ़्तार किया ही। तफ़तीश करने वालों के मुताबिक़ लीक रीनकोन कोमा की मुतवत्तिन मेरी परसेल उम्र 37 साल ने ग्यारह सितंबर सानिहा की दसवीं बरसी से एक रोज़ क़बल गुज़श्ता हफ़तहको सुबह अरीज़ोना एयरपोर्ट पर फ़ोन करके न्यू मैक्सीको जाने वाले साउथ वैस्ट एयर लाईन के एक तय्यारे में बम होने की इत्तिला दी थी। इसी तय्यारा मैं मज़कूरा ख़ातून की माँ और भाई भी सफ़र करने वाले थी। बम की मौजूदगी से मुताल्लिक़ इत्तिला पर पुलिस अफ़िसरों ने तय्यार वो की तलाशी ली मगर काफ़ी तलाशी के बाद भी कुछ ना मिलने की सूरत में तय्यारा को 15 मिनट की ताख़ीर से रवाना किया गया था।एफ़ बी आई के ज़राए के मुताबिक़ इस मुआमले की इंकुआयरी करने पर पता चला कि मारग्रेट मेयर नामी ख़ातून के फ़ोन से ये काल की गई थी जिन्हें अपने बेटे के साथ इसी तय्यारा में सफ़र करना था। पुलिस ने बतायाकि परसेल को जब गिरफ़्तार किया गया उस वक़्त वो घर पर अकेली थी। पूछताछ के दौरान शुरू में परसेल ने बतायाकि इस ने ये दरयाफ़त करने केलिए फ़ोन किया था कि तय्यारा को परवाज़ भरकरने में क्यों ताख़ीर हुई। मगर बाद में इस ने इस बात का एतराफ़ किया कि धमकी देने के मक़सद से इस ने ये फ़ोन किया था। वो ये नहीं चाहती थी कि ग्यारह सितंबर की बरसी के मौक़ा पर उस की माँ और भाई तय्यारे से सफ़र करें। ख़्याल रहे कि 11 सितंबर 2001 में अमरीका में हलाकत ख़ेज़ दहश्तगर्द हमला की दसवीं बरसी पर अलक़ायदा ने इस बार फिर ऐसे हमले करने की धमकी दी थी , जिस के पेशे नज़र पूरे अमरीका में हिफ़ाज़ती इंतिज़ामात इंतिहाई सख़्त करदिए गए थी।

Top Stories