तिब्बत में ज़लज़ला, 7 हलाक, बड़े पैमाने पर तबाही, बर्क़ी आबरसानी मुवासलाती निज़ाम मस्दूद

तिब्बत में ज़लज़ला, 7 हलाक, बड़े पैमाने पर तबाही, बर्क़ी आबरसानी मुवासलाती निज़ाम मस्दूद

बीजिंग। 19 सितंबर ( पी टी आई) चीन के ख़ुदमुख़तार सूबा तिब्बत में कल रात एक तबाहकुन ज़लज़ले के नतीजा में कम से कम 7 अफ़राद हलाक और दीगर 22 ज़ख़मी होगए। हिंदूस्तान की शुमाल मशरिक़ी रियास्तों बिलख़सूस सिक्किम में हुए इस ज़लज़ले के नतीजा में चीनी सूबा में बड़े पैमाने पर तबाहीया हुई हैं। तिब्बत के या डोंग टाऊन में ज़लज़ले के बाद मिट्टी के तूदे गिरने लगे जिस के नतीजा में शाहराहों पर ट्रैफ़िक जाम होगई। बर्क़ी-ओ-आ बरसानी की सरबराही मस्दूद होगई और मुवासलाती निज़ाम ठप होगया। सारा इलाक़ा तारीकी में डूब गया। ज़लज़ले का मब्दा हिंदूस्तानी रियासत सिक्किम में था जिस की शिद्दत 6.9 रिकार्ड की गई। तिब्बत के ज़िला ज़ीगाज़े में मुक़ामी हुक्काम ने जो बदतरीन तबाह शूदा टाऊन या डोंग में राहत कार मुहिम में मसरूफ़ हैं, कहा कि मलबा की सफ़ाई के लिए जंगी ख़ुतूत पर इक़दामात किए जा रहे हैं। सैंकड़ों कारकुनों को मुतहर्रिक करदिया गया है। भारी मिशनरी का इस्तिमाल किया जा रहा है ताकि रास्तों की जल्द सफ़ाई के बाद इस इलाक़े को इमदादी रसदाद पहुंचाई जा सकी। कोह हिमालया के दामन में वाक़्य इस छोटे से पुरफ़िज़ा-ए-टाऊन में आज सुबह ट्रैफ़िक बहाल करदी गई। सरकारी ख़बररसां इदारे ज़नावा के नुमाइंदों ने ख़बर दी है कि ज़लज़ले के सैंकड़ों मुतास्सिरीन मूसलाधार बारिश और सर्दी के बावजूद सारी रात सड़कों पर गुज़ार दी। इस टाऊन में तमाम 156 घर मुनहदिम होगए हैं, 500 खे़मे नसब करते हुए मुसाफ़िरी न को पनाह दी गई है।

Top Stories