बिहार में 2459 नए मदरसों की स्वीकृति को लेकर राजनीति तेज, विपक्ष और सरकार आमने सामने

बिहार में 2459 नए मदरसों की स्वीकृति को लेकर राजनीति तेज, विपक्ष और सरकार आमने सामने

पटना: बिहार में 2459 नए मदरसों की स्वीकृति को लेकर राजनीति तेज हो गई है। विपक्ष का आरोप है कि सरकार मदरसों की स्वीकृति के सिलसिले में टाल मटोल कर रही है। जबकि सत्तारूढ़ पार्टी के नेता इस बात के लिए तैयार नहीं है। अल्पसंख्यक कल्याण विभाग के मुताबिक एनडीए सरकार ने ही पहली बार मदरसों को स्वीकृत करने का फैसला किया था।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

आपको बता दें कि बिहार में पहले से ही 1128 मदरसे, मदरसा एजुकेशन बोर्ड से एफिलेटेड है। 2010 में नितीश सरकार की तरफ से 2459 मदरसों को स्वीकृत करने का फैसला किया था। केबिनेट के फैसले के बाद भी अब तक सिर्फ 814 मदरसों को ही स्वीकृत किया जा सका है। बाकी मदरसों की फाइलें विभाग का चक्कर काट रही है।

Top Stories