ममता ने जनसंघ संस्थापक श्यामा प्रसाद को जयंती पर दी श्रद्धांजलि, सियासी हलचल तेज़

ममता ने जनसंघ संस्थापक श्यामा प्रसाद को जयंती पर दी श्रद्धांजलि, सियासी हलचल तेज़

पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली टीएमसी सरकार ने शुक्रवार को हैरान करने वाला कदम उठाया. राज्य सरकार के एक मंत्री ने जनसंघ (अब बीजेपी) के संस्थापक डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी को उनकी जयंती पर श्रद्धांजलि दी. राज्य मंत्री अरूप रॉय ने कोलकाता के रेड रोड पर स्थित डॉ मुखर्जी की प्रतिमा पर श्रद्धासुमन अर्पित किए. इससे कुछ देर पहले इसी जगह पर बीजेपी की पश्चिम बंगाल इकाई की ओर से डॉ मुखर्जी के सम्मान में कार्यक्रम का आयोजन किया गया था.

पश्चिम बंगाल के राज्य मंत्री अरूप रॉय ने डॉ मुखर्जी को श्रद्धांजलि देने के बाद कहा, ‘जब श्यामाप्रसाद मुखर्जी ने बंगाल में अपना काम शुरू किया था तो बीजेपी का जन्म भी नहीं हुआ था. हमारी मुख्यमंत्री ने राज्य में संस्कृति को बदला है. बंगाल की हर विभूति के व्यक्तित्व और कृतित्व का उत्सव मनाया जाना चाहिए. और हम हमेशा ऐसा करते आए हैं.’

नबन्ना स्थित राज्य सचिवालय में भी ऐसे ही कार्यक्रम का आयोजन किया गया. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सोशल मीडिया पर जनसंघ के संस्थापक को श्रद्धांजलि दी. ममता ने फेसबुक पर अपने संदेश में लिखा- ‘श्यामाप्रसाद मुखर्जी को उनकी जयंती पर श्रद्धांजलि.’

बंगाल बीजेपी से जुड़े नेता जयप्रकाश मजूमदार ने टीएमसी के अचानक हृदय परिवर्तन का स्वागत किया. मजूमदार ने कहा, ‘श्यामाप्रसाद मुखर्जी नेबंगाल का निर्माण किया. ऐसे में उनके जीवन का उत्सव मनाना अपरिहार्य है. अगर पूरी जमीन को बंटवारे के समय ईस्ट पाकिस्तान के साथ जोड़ दिया जाता तो बंगाली हिंदुओं के पास रहने के लिए जमीन तक नहीं होती.’

मजूमदार ने कहा, ‘डॉ मुखर्जी के योगदान को राज्य के इतिहास में लंबे अर्से तक छुपा कर रखा गया. अब लोगों को उनके काम का महत्व समझ आने लगा है. ये जमीन श्यामाप्रसाद मुखर्जी के संघर्ष की है. उसी जमीन पर अब  मुख्यमंत्री ममता बनर्जी हैं और वो उनकी लंबे समय तक अनदेखी नहीं कर सकती.’

Top Stories