सुपरमार्केट की गलती से गौ मांस का सेवन करने के बाद एक हिंदु व्यक्ति ने ‘शुद्धिकरण’ के लिए मुआवजे की मांग की

सुपरमार्केट की गलती से गौ मांस का सेवन करने के बाद एक हिंदु व्यक्ति ने ‘शुद्धिकरण’ के लिए मुआवजे की मांग की

ब्लेनहेम, न्यूजीलैंड : न्यूजीलैंड के ब्लेनहेम में रहने वाले एक हिंदू व्यक्ति, जसविंदर पॉल ने सुपरमार्केट से बेचे गए मांस उत्पाद के लेबलिंग में लापरवाही के कारण गलत लेबलिंग करने के कारण सुपरमार्केट से मांग की है कि उसे भारत में पूर्ण राउंडट्रिप का किराया दिया जाए ताकि वह मेमने के बजाय अनजाने में बीफ खाने के लिए “शुद्धि संस्कार” से गुजर सके।

चुंकि बीफ हिंदुओं के लिए अपवित्र है। जसविंदर ने कहा कि अनजाने में गोमांस का सेवन करने से उसके धार्मिक विश्वासों को ठेस पहुंची है और उसे अपने परिवार के सदस्यों से अलग कर दिया गया है जिन्होंने उसे अपवित्र माना है और अब उसे शुद्धिकरण की जरूरत है।

उन्होंने कहा कि सुपरमार्केट की लापरवाही के कारण उन्होंने अनजाने में जो किया था, उसे हिंदू मान्यताओं के अनुसार शुद्धि संस्कार से गुजरना होगा और भारत जाना होगा और कुछ समय के लिए रहना होगा जिसमें वे आवश्यक अनुष्ठानों को पूरा करेंगे।

उन्होंने कहा कि जैसा कि वह भारत में होंगे, उन्हें कुछ समय के लिए अपना व्यवसाय छोड़ना होगा, जिससे उन्हें वित्तीय नुकसान होगा। हालाँकि सुपरमार्केट ने अपनी त्रुटि स्वीकार कर ली है और उनसे माफी मांगी है, लेकिन जसविंदर ने मांग की है कि वे उसे शुद्धिकरण की प्रक्रिया के दौरान अपने रहने के लिए फंड देने के लिए भारत के साथ पूरा राउंडट्रिप किराया दे। सुपरमार्केट ने उसे अपनी गलती के लिए उपहार वाउचर देने की पेशकश की थी, लेकिन प्रस्ताव को जसविंदर ने ठुकरा दिया। वह कानूनी माध्यमों से मुआवजा मांगने पर विचार कर रहा है।

Top Stories