सैलरी भुगतान न होने से 60 लाख यमेनी जानलेवा गरीबी का शिकार

सैलरी भुगतान न होने से 60 लाख यमेनी जानलेवा गरीबी का शिकार
A Yemeni family sits in their single room slum house on the outskirts of Sanaa on September 4, 2012. Global donors made aid pledges worth $6.4 billion to Yemen, the World Bank said, half of what Sanaa says it needs to weather a rough political transition triggered by Arab Spring protests. AFP PHOTO/ MOHAMMED HUWAIS

एक आर्थिक रिपोर्ट में युद्ध से नष्ट यमन के बारे दल दहला देने वाले खुलासे किये गये हैं। रिपोर्ट में बताया गया है कि सरकारी कर्मचारी को 19 महीने से सैलरी भुगतान नहीं किया गया है, जिसके परिणामस्वरूप 60 लाख लोग सबसे ज्यादा गरीबी का शिकार हैं।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

अलअरबिया डॉट नेट के अनुसार आर्थिक केंद्र द्वारा किए गए आर्थिक दूरसंचार अध्ययन केंद्र द्वारा जारी रिपोर्ट में नागरिकों को गरीबी से बचाने के लिए सरकारी कर्मचारियों को तत्काल वेतन का भुगतान करने और शिक्षा व स्वास्थ्य के विभागों में नागरिकों की विशेष सहायता के लिए अपील की गई है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि यमन में गृहयुद्ध के परिणामस्वरूप यमन में प्रति जन आमदनी 45 डॉलर से भी कम हो गया है। यमन में बढ़ती आर्थिक स्थितियों के बारे में यह आंकड़े एक ऐसे समय में सामने आया है जब रमजान का महिना जारी है। रमजान के दौरान नागरिकों की जरूरतें पहले से अधिक बढ़ जाती हैं।

Top Stories