ईरान ने बातचीत के लिए अमेरिका के सामने रखा शर्त!

ईरान ने बातचीत के लिए अमेरिका के सामने रखा शर्त!

ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने सोमवार को कहा कि जब तक अमेरिका ‘सामान्य’ व्यवहार नहीं करता, उससे कोई बात नहीं की जाएगी. इससे पहले विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने कहा था कि अमेरिका बिना किसी पूर्व शर्त के ईरान से बातचीत को तैयार है।

रूहानी ने टीवी पर प्रसारित एक भाषण में कहा, वह पक्ष जिसने बातचीत की मेज छोड़ा, वह पक्ष जिसने समझौते को बर्बाद किया, उसे पहले सामान्य व्यवहार की तरफ लौटना चाहिए।

राष्ट्रपति ने कहा, अगर दुश्मन को सचमुच लगता है कि उसने जो रास्ता चुना वह गलत था, तो बातचीत की मेज पर बैठने और किसी भी मुद्दे को सुलझाने का दिन वही होगा।

ईरान और अमेरिका के बीच हाल के कुछ हफ्तों में तनाव बढ़ा है. अमेरिका पिछले साल ऐतिहासिक परमाणु सौदे से बाहर हो गया और इस्लामी गणराज्य पर उसने कठोर प्रतिबंध लगा दिए।

ज़ी न्यूज़ पर छपी खबर के अनुसार, पोम्पियो ने रविवार को यह कर अमेरिका के रुख में नरमी दिखाई थी कि, “हम बिना किसी पूर्व शर्त के बातचीत करने की तैयारी कर रहे हैं।

पोम्पिओ ने स्विट्जरलैंड में कहा था, वॉशिंगटन निश्चित तौर पर बातचीत करने को तैयार है जब ईरान के लोग साबित करें कि वे सामान्य राष्ट्र की तरह पेश आ रहे हैं। उन्होंने इस बारे में कोई संकेत नहीं दिए कि बातचीत में प्रतिबंध हटाने का मुद्दा शामिल होगा या नहीं।

Top Stories