इजरायल के राष्ट्रपति नेतन्याहू पर भ्रष्टाचार के आरोप !

इजरायल के राष्ट्रपति नेतन्याहू पर भ्रष्टाचार के आरोप !

भ्रष्टाचार के कई आरोपों का सामना कर रहे प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू को आरोपित किया जाए या नहीं इस पर इज़राइल के अटॉर्नी जनरल गुरुवार को बहुप्रतीक्षित फैसला सुनाएंगे।

इस कदम से इज़राइल के चुनावी अभियान और प्रधानमंत्री के राजनीतिक करियर पर संभवत: विराम लग सकता है। अटॉर्नी जनरल अविचाय मेंडलब्लिट के सहायक ने कहा कि वह दो साल से ज्यादा वक्त तक चली गहन जांच और वार्ताओं के बाद अपना फैसला सुनाने के लिये तैयार हैं।

औपचारिक घोषणा न होने की वजह से सूत्र ने अपनी पहचान जाहिर नहीं करने की मंशा व्यक्त की थी। पुलिस ने नेतन्याहू को घूसखोरी, धोखाधड़ी और विश्वासघात के तीन मामलों में आरोपित करने की सिफारिश की थी। उम्मीद है कि मेंडलब्लिट नेतन्याहू के वकीलों को सूचित करेंगे कि वह संदिग्ध के लिये अंतिम सुनवाई लंबित रखने का इरादा रखते हैं यद्यपि सटीक आरोप क्या हैं यह अभी स्पष्ट नहीं है।

माना जा रहा है कि सुनवाई नौ अप्रैल को होने वाले चुनावों के बाद होगी। इजरायल के इतिहास में पहली बार होगा जब किसी मौजूदा प्रधानमंत्री पर किसी अपराध को लेकर आरोप लगे हैं। पूर्व प्रधानमंत्री एहुद ओलमर्ट भ्रष्टाचार के मामले में जेल जा चुके हैं, हालांकि आरोप लगने से पूर्व ही उन्होंने इस्तीफा दे दिया था।

इस बीच एएफपी की खबर के मुताबिक हनोई में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने नेतन्याहू का बचाव किया है। उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग उन के साथ अपनी शिखर वार्ता के बाद ट्रंप ने कहा, “मैं यह कह सकता हूं, उन्होंने प्रधानमंत्री के तौर पर शानदार काम किया।” उन्होंने कहा, “वो स्मार्ट और मजबूत हैं। वह काफी रक्षात्मक हैं उन्होंने अपनी सेना को काफी अच्छा बनाया है।”

Top Stories