जम्मू-कश्मीर में कांग्रेस और नेशनल कॉनफ्रेंस के बीच गठबंधन कितना होगा कामयाब?

जम्मू-कश्मीर में कांग्रेस और नेशनल कॉनफ्रेंस के बीच गठबंधन कितना होगा कामयाब?

लोकसभा चुनाव के मद्देनजर राजनीतिर पार्टियों का एक दूसरे से गठबंधन का सिलसिला जारी है। जम्मू-कश्मीर में कांग्रेस और पूर्व सीएम फारूक अब्दुल्ला की पार्टी नेशनल कॉन्फ्रेंस के बीच गठबंधन हो गया है।

अब घाटी में कांग्रेस जम्मू और उधमपुर सीट से चुनाव लड़ेगी। वहीं, नेशनल कॉनफ्रेंस श्रीनगर सीट से चुनाव लड़ेगी। बता दें कि इस सीट से खुद फारूक अब्दु्ल्ला चुनाव लड़ेंगे।

पत्रिका पर छपी खबर के अनुसार, अनंतनाग और बारामूला सीट पर कांग्रेस और नेशनल कॉन्फ्रेंस एक-दूसरे के खिलाफ चुनाव लड़ेंगे। वहीं, दूसरी तरफ लद्दाख सीट पर दोनों के बीच बात हो रही है।

बता दें कि जम्मू-कश्मीर में लोकसभा की छह सीट हैं। यहां पांचवें चरण में मतदान होने हैं। ऐसे में लोकसभा चुनाव से पहले घाटी में नैशनल कॉन्फ्रेंस और कांग्रेस के बीच गठबंधन एक अलग संकेत दे रहा है।

बीते सोमवार को नैशनल कॉन्फ्रेंस ने संसदीय बोर्ड की मीटिंग बुलाई थी। बैठक के बाद ऐलान किया था कि उनकी पार्टी राज्य की सभी 6 लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ेगी।

वहीं, पार्टी के संरक्षक फारूक अब्दुल्ला श्रीनगर लोकसभा सीट से चुनाव लड़ेंगे। लेकिन अब ख़बर उससे उलट हैं। कांग्रेस और नेशनल कॉनफ्रेंस के बीच गठबंधन हो चुका है।

आपको बता दें कि राज्य में छह संसदीय क्षेत्र अनंतनाग-पुलवामा, उधमपुर-डोडा, बारामुला-कुपवाड़ा, श्रीनगर-बडगाम, जम्मू-पुंछ व लददाख हैं।

इन सीटों पर कांग्रेस, नेशनल कांफ्रेंस व पीडीपी के अलावा भाजपा मुख्य दावेदार हैं। पिछले संसदीय चुनावों की बात करें तो जम्मू-पुंछ, उधमपुर-डोडा व लद्दाख में बीजेपी ने कमल खिलाया था।

Top Stories