VIDEO : अमरूद के फल से किडनी स्टोन के इलाज का दावा

VIDEO : अमरूद के फल से किडनी स्टोन के इलाज का दावा

हैदराबाद : अमरूद जिसे जामफल या पेरू भी कहा जाता है। ये खाने का फल है। जामफल या अमरुद दो तरह के होते हैं। एक अंदर से सफ़ेद और हलके क्रीम यानि पीलेपन पर होता है, दूसरा सुर्ख गुलाबी रंग (पिंक्की कलर) का होता है. अमरुद जिस्म को ताकत देने वाला फल है।

अमरूद में सेहत के लिये लाभकारी पौष्टिक तत्व जैसे विटामिन A, विटामिन C, आयरन (लोहा) और कैल्शियम आदि पाये जाते है। अमरुद कब्ज़ की बीमारी से छुटकारा दिलाने में काफी फायदेमंद है। ये पेट के हाज़मे के लिए भी लाभकारी है।
लेकिन बहुत कम लोग ही जानते होंगे कि अमरूद किडनी स्टोन को जड़ से खत्म कर सकता है । अमरूद पथरी की शुरुआती बीमारी में फायदा करता ही है. साथ ही अमरुद गुर्दे की पथरी को भी खतम करता है।

अमरूद से किडनी स्टोन का इलाज
तरीका : सबसे पहले अमरूद को हल्का कट कर उससे एक टुकड़ा निकाल लें और उसमें खाने का सोडा डाल कर वापस अमरूद का निकल गया टुकड़ा उसमें रख कर राँ भर खुले में वैसे ही छोड़ दें और इस पूरे अमरूद को रोजाना तीन दिनों तक खाएं, ध्यान रहे कि एक दिन भी मिस न करें वरना एक सप्ताह के बाद फिर यही प्रोसेस करना होगा।

यह नुस्खा हैदराबाद के एक मुस्लिम परिवार का है जिसका दावा है कि ऐसा करने से किडनी स्टोन जड़ से खत्म हो जाता है।

अमरूद के अन्य फायदे :

क़ब्ज़ का इलाज: हर रोज़ पांच ताज़ा और पके अमरुद यानि जामफल खाना कब्ज़ के मरीज़ के लिए मुफीद है, लाभकारी है। क़ब्ज़ को दूर करने के लिए पके अमरुद ही खाना चाहिए क्योंकि कच्चे अमरुद क़ब्ज़ पैदा करते हैं ।

नज़ला और खांसी का इलाज:   नज़ला और खांसी के इलाज के लिए आधा कच्चा अमरुद गरम राख मेंदबाकर थोड़ी देर के लिए रख दें, कुछ देर बादनिकालकर  साफ करलें फिर थोड़ा नमक मिलाकर खाएं। इस तरह अमरुद खांसी और नज़ले का इलाज है।

एसिडिटी का इलाज: अमरूद एसिडिटी को दूर करताहै.

बवासीरी कब्ज : बवासीरी कब्ज  को दूर करने के लयेभी एक कारगर फल है।

घबराहट और मितली का इलाज: सिर्फ अमरूद कोसूंघना ही घबराहट और मितली का इलाज है।

मोटापे का इलाज: मोटापा कम करने के लये भीअमरुद को लाभकारी माना जाता है। क्योंकि अमरुद कोलेस्ट्रोल को कम करता है। जिससे मोटापा कम होता है।

मस्तिष्क में तरावट: अमरुद खाने से मस्तिष्क मेंतरावट रहती है।

Top Stories