बोलिंग के बिना मैदान में मज़ा नहीं आता: मोहम्मद हफ़ीज़

बोलिंग के बिना मैदान में मज़ा नहीं आता: मोहम्मद हफ़ीज़

पाकिस्तान के दिग्गज आलराउंडर खिलाडी और खतरनाक बोलर मोहम्मद हफीज तीसरी बार अपना बोलिंग एक्शन आईसीसी क्लीयर कराने में कामियाब हो गये हैं।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

हफीज का कहना है कि वह अगले साल विश्व कप खेलना चाहते हैं हौसला तोड़ने वाले बयानों की प्रवाह नहीं करते वह कहते हैं कि बोलिंग के बगैर मैदान में मज़ा नहीं आता। गौरतलब है कि आईसीसी ने पाकिस्तान के इस ऑफ़ स्प्निर के बदले हुए गेंदबाज़ी एक्शन को सही ठहराते हुए उन्हें अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में फिर से गेंदबाज़ी की अनुमति दे दी है।

गौरतलब है कि हफीज को सबसे पहले अवैध गेंदबाज़ी एक्शन के लिए दिसंबर 2014 में निलंबित किया गया था जबकि इससे पहले नवंबर में न्यूज़ीलैंड के खिलाफ टेस्ट सिरीज़ में भी उनके गेंदबाज़ी एक्शन को अवैध पाया गया था।

Top Stories